अपना जिला

अरोड़वंश सभा ने लावारिस शवों के संस्कार का उठाया बीड़ा

हनुमानगढ़ । अरोड़वंश सभा टाउन के मार्गदर्शन के तले अरोड़वंश युवा संघ पुलिस प्रशासन को लावारिस मिलने वाले शवों के अंतिम संस्कार करवाने में मदद करेगा। इसकी शुरुआत भद्रकाली मन्दिर के पास मिलेअज्ञात व्यक्ति के शव का पूर्ण हिन्दू विधि विधान से दाह संस्कार कर की गई। सभा के अध्यक्ष सतीश कटारिया ने बताया कि घग्घर में मिले शव का पुलिस ने पोस्टमार्टम करवा अरोड़वंश युवा संघ के सुपुर्द किया था। जिसका पुलिस की मौजूदगी में पूरे विधि विधान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। संरक्षक पे्रम सेतिया, सभा अध्यक्ष सतीश कटारिया व युवायंघ अध्यक्ष विकास डोडा ने बताया कि टाउन थाना प्रभारी रामप्रताप बिश्रोई द्वारा अरोड़ वंश सभा को लावारिश शव मिलने की सूचना दीगई। जिस पर शव का संस्कार करवाया गया। उन्होंने बताया कि भविष्य में भी अरोड़वंश सभा व अरोड़वंश युवा संघ मिल कर लावारिश शवों का अंतिम संस्कार करवाएंगे। साथ ही अस्थियों को हरिद्वार ले जाकर प्रवाहित करवाया जाएगा। कटारिया ने बताया कि अरोड़वंश सभा शहर में लावारिश मिलने वाले बेसहारा वृद्धों को सभा द्वारा संचालित वृद्ध आश्रम में लाकर उन्हें संभालेगी। अरोड ̧व ́श सभा ∙े अध्यक्ष सतीश ∙टारीया ने अंतिम संस्कार के अवसर पर सभा अध्यक्ष यतीश कटारिया, पे्रम सेतिया, विकास डोडा, नरेश छाबड़ा, कश्मीरीलाल मिढ़ा, जसपाल छाबड़ा, राजेन्द्र गुंटर,अरूण कुक्कड़,राजीव छोडा, हैप्पी बतरा, हिमांशु मिढ़ा आदि उपस्थित थे। Date:- (Wed Jul 30, 2014 At 2:56 PM)

देश-प्रदेश

लश्कर के निशाने पर हैं संघ के नेता, बड़े उद्योगपति और राजनेता

नई दिल्ली। हाल ही में दिल्ली से गिरफ्तार किए गए लश्कर ए तैयबा के आतंकी अब्दुल सुभान कुरैशी ने चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। पूछताछ के दौरान सुभान ने लश्कर के गुप्त प्लान के बारे में जानकारी दी। सुभान ने बताया कि लश्कर ए तैयबा की दिल्ली में बड़े हमले की योजना थी। बड़े उद्योपति,आरएसएस के नेता और कई राजनेता उसके निशाने पर हैं। लश्कर के आतंकी उन लोगों के घरों और दफ्तरों पर करीब से नजर रखे हुए थे जो उनके निशाने पर हैं। आतंकी अपने खतरनाक प्लान को अंजाम देने वाले थे। पिछले महीने हुई बैठक में आईबी ने भी लश्कर के खतरनाक आतंकी प्लान की पुष्टि की थी। सुभान के खुलासे के बाद आईबी हाई अलर्ट हो गई है। सुभान ने उन 24 उद्योगपतियों और राजनेताओं के नामों का खुलासा किया है जो लश्कर के निशाने पर हैं। आईबी कुछ और नामों का पता लगाने की कोशिश कर रही है जो लश्कर के निशाने पर हो सकते हैं। अब्दुल कुरैशी की गिरफ्तारी पुलिस के लिए काफी अहम है क्योंकि वह ब्रैन वॉश कर भारत के युवाओं को आतंक की दुनिया में धकेल रहा था। अब्दुल कुरैशी लगातार लश्कर ए तैयबा को लॉजिस्टिक सपोर्ट दे रहा था। अब्दुल कुरैशी मुंबई,दिल्ली और अहमदाबाद में हुए आतंकी हमलों में शामिल था। इन शहरों में हुए बम धमाकों में सैंकड़ों निर्दोष नागरिक मारे गए थे। जो लोग लश्कर के निशाने पर हैं उनके बारे में जानकारी के लिए अब्दुल कुरैशी ने उत्तर प्रदेश में बड़ा नेटवर्क खड़ा कर दिया था।

अपना जिला

एसकेडी में क्विज प्रतियोगिता आयोजित

हनुमानगढ़। सूरतगढ़ टोल नाके के समीप स्थित एसकेडी कालेज आफ हायर एज्युकेशन में मेगाा क्विज प्रतियोगिता आयोजित की गई। इसमें बड़ी संख्या में विद्यार्थियों ने हिस्सा लिया। इसमें विभिन्न विषयों से जुड़े सवाल पूछे गए। प्रतियोगिता में कला में कृष्णलाल,सुनीता गर्ग,मैनादेवी,परमजीतकौर,रिशु सोनी,वाणिज्य वर्ग में नेहा अरोड़ा,पूजा सिंगला,वीनस,जीतू जबकि साईंस वर्ग में स्नेहा वर्मा, मुस्कान,सिमरनजीत अराधना पाण्डे,चन्द्रमोहन, भजनलाल, आदि विद्यार्थियों ने पुरस्कार जीते। इस अवसर पर वाणिज्य विषयों के विशेषज्ञ ललित गर्ग, निशांत मितल, विज्ञान विषयों के विशेषज्ञ सुरेन्द्र जी, रोहित ज्याणी, बृजप्रकाश ,पुनीत बंसल, कला वर्ग के विशेषज्ञ हरिभूषण पंवार, चुन्नीलाल शर्मा, नीलम चिलाना,राजेन्द्र भाटी, मनसुख शर्मा, रेशम सिंह आदि उपस्थित थे। मंच संचालन रमेश पारीक ने किया। व्यवस्थापक दिनेश जुनेजा ने विजेताओं को बधाई दी। इस अवसर पर प्रबंधन की ओर से वर्ष 2014-15 के दौरान होने वाली शैक्षणिक व गैर शैक्षणिक गतिविधियों का कलेण्डर जारी किया गया।Date:- (Wed Jul 30, 2014 At 1:33 PM)

अपना जिला

दादरी ने की राजे सरकार की आलोचना

हनुमानगढ़ । जिला काग्रेस कमेटी अघ्यक्ष सुरेन्द्र दादरी ने भाजपा सरकार द्वारा मुख्यमंत्री नि:शुल्क दवा एवं योजना का दायरा सीमित करने की कड़ी आलोचना की है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार की प्रस्तावित योजना से रोज 275 रू. कमाने वाला व्यक्ति भी मुफ्त दवा एंव जांच योजना से बाहर हो जायेगा। दादरी ने कहा कि राजनैतिक आधार पर लोगों को इन योजनाओं से वंचित नहीं किया जावे। राज्य सरकार का दायित्व है कि राज्य के सभी लोगों को योजनाओं का लाभ मिले। उन्होंने यह भी कहा कि वर्तमान में केन्द्र सरकार ने अपने बजट में नि:शुल्क जांच एंव दवा योजना को पूरे देश भर में लागू करने का प्रस्ताव किया है तथा डब्लयु.एच.ओ ने भी राजस्थान की इस योजना की सराहना की थी। इसके साथ-साथ इस योजना को प्राईवेट संस्थाओं से जोडऩे से बीच के लोग फायदा उठायेंगे और ईलाज अनावश्यक रूप से महंगा होगा। नि:शुल्क जांच एंव दवा योजना में दस्तावेज प्रस्तुत करने की बाध्यता से आपातकालिन गम्भीर बीमारीयों में दस्तावेज समय पर साथ नहीं होने से गरीब आदमी को बहुत बड़ा नुकसान होने की आशंका बनी रहेगी। जिलाध्यक्ष सुरेन्द्र दादरी ने मांग की है नि:शुल्क दवा एंव जांच योजना पूर्व की भांति लागू रहनी चाहिए। Date:- (Sat Jul 26, 2014 At 1:56 PM)

बहुत कुछ

भामाशाह योजना के क्रियान्वयन हेतु प्रशिक्षण

हनुमानगढ । गरीब, लघु एवं सीमान्त किसान परिवारों के वित्तिय सशक्तिकरण, नारी समृद्घि योजना, घर के नजदीक बैंकिग सुविधा उपलब्ध करवाने, सभी परिवारों को बहुउद्देशीय बायोमैट्रिक स्मार्ट कार्ड उपलब्ध करवाने, बायोमैट्रिक कार्डधारी परिवारों को स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध करवाने के उदेश्य से भामाशाह योजना 2014 मु यमंत्री द्वारा 16 अगस्त 2014 से प्रार भ की जाएगी। गुरूवार को कलेक्ट्रेट सभागार में भामाशाह योजना 2014 के जिले में क्रियान्वयन हेतु उपखण्ड अधिकारी, तहसीलदार, नगरपालिका अधिशाषी अधिकारी एवं विकास अधिकारियों की एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए जिला कलक्टर श्री पी.सी.किशन स बोधित कर रहे थे। उन्होने बताया कि व्यवसायिक शिक्षा, छात्रवृति, स्कूल शिक्षा छात्रवृति, जन्म प्रमाण पत्र एवं स्वास्थ्य सेवा, वाहन पंजीकरण, चालक लाईसेंस, पासपोर्ट, वीजा, भू-अभिलेख, स पति पंजीकरण, विवाह प्रमाण पत्र, टैक्स, उपयोगिता सेवा, पेंशन, बीमा, स्वास्थ्य, मृत्यु प्रमाण पत्र को भामाशाह योजना 2014 एकीकृत लोकसेवा डिलिवरी के अन्तर्गत जो$डा जाएगा। उन्होने बताया कि राज्य सरकार का यह उद्देश्य है कि प्रत्यक्ष रूप से नकद वितरण सेवा- मनरेगा मजदूरी, छात्रवृति, पेन्शन, इन्दरा आवास, मु यमंत्री बीपीएल आवास, रोजगार भत्ता, जननी सुरक्षा योजना, गैस सब्सिडी, स्वरोजगार हेतु अनुदान को बायोमैट्रिक स्मार्ट कार्ड से बैंक खाते को लिंक कर सीधा लाभ स बन्धित के खाते में जमा करवाने हेतु तैयार की गई है। उन्होने बताया कि इस योजना की पर्नसंरचना करते हुए वृहद रूप में पुन: क्रियान्वित करने का निर्णय लिया गया है। राज्य के अन्य किसी कार्यक्रम से लाभान्वित नहीं हो रहे प्रत्येक बीपीएल परिवार की महिला के खाते में दो हजार रूपए दो किस्तों में दिए जाने का प्रावधान है। प्रशिक्षण में अतिरिक्त जिला कलक्टर श्री बी.एल.मेहर$डा ने भी भामाशाह योजना 2014 के बारे में विस्तार से जानकारी दी। प्रशिक्षण में जिला परिषद के मु य कार्यकारी अधिकारी श्री रामनिवास जाट, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री डी.डी.सिंह, हनुमानग$ढ उपखण्ड अधिकारी श्री होशियार सिंह, सगरिया श्री के.सी.राठौड, पीलीबंगा श्री हर्षवर्धन सिंह, रावतसर श्री रतन कुमार, भादरा श्री नरेद्र सिंह कुलहरि, जयपुर से आए एएसओ श्री अनिल तिवा$डी, प्रोग्रामर श्री भरतराम व सां ियकी अधिकारी श्री दीनदयाल शर्मा, सां ियकी कार्यालय के श्री शीशराम, श्री विकास भा भू, मु य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रीत मोहिन्द्र, हनुमानग$ढ तहसीलदार श्री सुरेन्द्र जाख$ड, संगरिया श्री विक्रम सिंह, भादरा श्री जीतुसिंह मीणा, रावतसर श्री भंवरलाल परिहार, नोहर श्री कपिल कुमार, टिब्बी श्री रामप्रकाश, समस्त विकास अधिकारी सहित नगर पालिकाओं के अधिशाषी अधिकारी तथा विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे। Date:- (Thu Jul 24, 2014 At 4:24 PM)

 
dhoom 3

खास खबरें

  •   Bookmark and Share
  •   Bookmark and Share
  •   Bookmark and Share
  •   Bookmark and Share

अपना जिला

अरोड़वंश सभा ने लावारिस शवों के संस्कार का उठाया बीड़ा


हनुमानगढ़ । अरोड़वंश सभा टाउन के मार्गदर्शन के तले अरोड़वंश

  युवा संघ  पुलिस प्रशासन को लावारिस मिलने वाले शवों के अंतिम संस्कार करवाने में मदद करेगा।  इसकी शुरुआत  भद्रकाली मन्दिर के पास

मिलेअज्ञात व्यक्ति के शव का  पूर्ण हिन्दू

विधि विधान से दाह संस्कार कर की गई। सभा के 

अध्यक्ष सतीश कटारिया ने बताया कि घग्घर में मिले शव का पुलिस ने पोस्टमार्टम करवा अरोड़वंश युवा संघ के सुपुर्द किया था।  जिसका पुलिस की मौजूदगी में पूरे विधि विधान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। 
 
संरक्षक पे्रम सेतिया, सभा अध्यक्ष सतीश कटारिया व युवायंघ अध्यक्ष विकास डोडा ने बताया कि  टाउन थाना प्रभारी रामप्रताप

बिश्रोई द्वारा अरोड़ वंश सभा  को लावारिश शव मिलने की सूचना दीगई। जिस पर शव का संस्कार करवाया गया। उन्होंने बताया कि भविष्य में भी अरोड़वंश सभा व अरोड़वंश युवा संघ मिल कर लावारिश शवों का अंतिम संस्कार करवाएंगे। साथ ही अस्थियों को हरिद्वार ले जाकर प्रवाहित करवाया जाएगा।

 कटारिया ने बताया कि अरोड़वंश सभा शहर में लावारिश मिलने वाले बेसहारा वृद्धों को सभा द्वारा संचालित वृद्ध आश्रम में लाकर उन्हें संभालेगी।
अरोड ̧व ́श सभा ∙े अध्यक्ष सतीश ∙टारीया ने

अंतिम संस्कार के अवसर पर सभा अध्यक्ष यतीश कटारिया, पे्रम सेतिया, विकास डोडा, नरेश छाबड़ा, कश्मीरीलाल मिढ़ा, जसपाल छाबड़ा, राजेन्द्र गुंटर,अरूण कुक्कड़,राजीव छोडा, हैप्पी बतरा, हिमांशु मिढ़ा आदि उपस्थित थे। 
Date:- (Wed Jul 30, 2014 At 2:56 PM)
See More.... Bookmark and Share

Hot News

 

बहुत कुछ

वेबसाइट्स में कमियां निकालो, जीतो हजारों डॉलर्स का इनाम

जयपुर। दुनिया की नामी वेबसाइट्स में कमियां निकालकर लोग हजारों डॉलर्स की कमाई कर रहे हैं। आप भी जीत सकते हैं ये इनाम। बस जरूरत है समय निकालकर ऎसी साइट्स पर कमियां खोजने की। ऎसे लोगों को ये साइट ओनर कम्पनियां कमियां "हॉल ऑफ फेम" की उपाधि और ईनाम देती हैं। हॉल ऑफ फेम पाने के लिए दुनियाभर के यूथ में होड़ मची हुई है। दुनिया की टॉप सोशल नेटवर्किंग साइट्स, सर्च इंजन और वेबसाइट्स की कमियां निकालने पर मिलने वाला यह फेम जयपुराइट्स के भी सिर चढ़कर बोल रहा है। जयपुराइट्स में इसका जबरदस्त क्रेज देखा जा रहा है। यहां तक कि कुछ एथिकल हैकर्स ने तो इसे अपना प्रोफेशन बना लिया है। इनसे मिलने वाले डॉलर्स में रिवॉर्ड, फेम और काइंड प्राइजेज ने इसे यूथ का पैशन बना दिया है। दरअसल वेबसाइट्स को इससे अपनी कमियां दूर कर प्रोडक्ट को बेहतर बनाने में मदद मिल रही है। दूसरी ओर, बगक्राउड, हैकरवन और बगशीड जैसी वेबसाइट्स भी इस क्रेज को देखते हुए मैदान में उतर आई हैं। ये वेबसाइट्स यूथ को बग बाउंटी (कमियां निकालने वाले) प्रोग्राम ऑफर कर रही हैं। एक अनुमान के मुताबिक देश में लगभग एक हजार से ज्यादा यूथ प्रोफेशनल तरीके से बग फीड कर रहे हैं। इसकी तादाद रोजाना बढ़ रही है। एक बड़ा कॉम्पीटिशन दुनिया के टॉप हैकर्स इन साइट्स को बग फीड करने के लिए इस्तेमाल करते हैं। मसलन, एक ही साइट पर कई लोग बग फीड करते हैं, यानी यूथ के सामने एक बड़ा कॉम्पीटिशन होता है। इसके बाद जिसकी फीड को वेबसाइट स्वीकार कर लेती है, उसे "हॉल ऑफ फेम" का खिताब मिल जाता है। इसके लिए वेबसाइट अपने हॉल ऑफ फेम पेज पर लाखों लोगों में से उन चुनिंदा लोगों के नाम पब्लिश करती है, जो किसी भी हैकर के लिए सबसे बड़ी बात है। ऎसे करते हैं काम बग हंटर्स का कहना है कि वेबसाइट्स में कमियां ढूंढ़ना इतना आसान नहीं होता। इसके लिए कई दिनों और महीनों तक वर्क करना पड़ता है लेकिन यह काफी रोचक होता है। कई बग के लिए प्रोग्रामिंग भी करनी पड़ती है। यह एक तरह का फ्रीलांस वर्क है जिसे घर बैठे अपने हैकिंग स्किल्स से अंजाम दिया जा सकता है। देश की पहली गर्ल जयपुर से! जयपुर से कम्प्यूटर साइंस इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर चुकी प्रियंका जैन शायद देश की पहली ऎसी गर्ल हैं, जिन्हें ईबे, पेपाल और पेमिल की ओर से "हॉल ऑफ फेम" मिल चुका है। इन वेबसाइट्स से यूजर की पर्सनल इन्फॉर्मेशन चुराई जा सकती थी। यानी यूजर का अकाउंट आसानी से हैक किया जा सकता था। प्रियंका ने वेबसाइट की इस कमी को बताया, तो उन्हें यह खिताब दिया गया। ये वेबसाइट्स खुद भी बाउंटी प्रोग्राम चलाती हैं। फोटो न छापने की शर्त पर प्रियंका ने बताया कि उनका पैशन हमेशा से कम्प्यूटर टेक्नोलॉजी में रहा है और जब दुनियाभर के यूथ में बग बाउंटी हंटर बनने की होड़ मची हुई है, तो गल्र्स भी कैसे पीछे रह सकती हैं। 40 साइट्स में कमियां माइक्रोसॉफ्ट में चार बार, गूगल में तीन बार, फेसबुक में चार बार समेत 40 से ज्यादा वेबसाइट्स में बग फीड कर चुके जयपुर के जीत जयसवाल को कई बार "हॉल ऑफ फेम" का खिताब मिल चुका है। इस बग फीडिंग से अभी तक लगभग 10 हजार से ज्यादा डॉलर कमा चुके एमसीए स्टूडेंट जितेन्द्र ने हाल ही फेसबुक में यूजर के सर्वर की इंफॉर्मेशन लीक होने की कमी बताई थी। हाल ही उन्हें एप्पल का भी "हॉल ऑफ फेम" मिल चुका है। डवलपमेंट में मदद फैक्टलिंक, ईबे, नोकिया और माइक्रोसॉफ्ट जैसी कंपनियों ने लिए बग फीड कर चुके जैकी सराफ को इन कंपनियों की ओर से "हॉल ऑफ फेम" में शामिल किया जा चुका है। एथिकल हैकर जैकी एमएससी आईटी के स्टूडेंट हैं। उनके मुताबिक कंपनियां अपना प्रोडक्ट डवलप करने के लिए बाउंटी प्रोग्राम चला रही हैं। इससे उन्हें यूजर फ्रैंडली होने में मदद मिलती है। ऎसे हैं टॉप 3 बग सोशल नेटवर्किंग मैनेजमेंट साइट बफरएप और फैक्टलिंक जैसी वेबसाइट्स पर बग फीड कर चुके सुमित सैनी ने इन वेबसाइट्स में यूजर की इन्फॉर्मेशन चुराने की पड़ताल की थी। सुमित के मुताबिक कई वेबसाइट्स में यूजर का डाटा आसानी से चुराया जा सकता है। ज्यादातर वेबसाइट्स में यूजर की इन्फॉर्मेशन चुराने, वायरस डाउनलोड होने और सर्वर की इन्फॉर्मेशन आसानी से लीक होने जैसे लूप सामने आ रहे है 7/30/2014 2:24:58 AM
See More.... Bookmark and Share


देश-प्रदेश

लश्कर के निशाने पर हैं संघ के नेता, बड़े उद्योगपति और राजनेता

नई दिल्ली। हाल ही में दिल्ली से गिरफ्तार किए गए लश्कर ए तैयबा के आतंकी अब्दुल सुभान कुरैशी ने चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। पूछताछ के दौरान सुभान ने लश्कर के गुप्त प्लान के बारे में जानकारी दी। सुभान ने बताया कि लश्कर ए तैयबा की दिल्ली में बड़े हमले की योजना थी। बड़े उद्योपति,आरएसएस के नेता और कई राजनेता उसके निशाने पर हैं। लश्कर के आतंकी उन लोगों के घरों और दफ्तरों पर करीब से नजर रखे हुए थे जो उनके निशाने पर हैं। आतंकी अपने खतरनाक प्लान को अंजाम देने वाले थे। पिछले महीने हुई बैठक में आईबी ने भी लश्कर के खतरनाक आतंकी प्लान की पुष्टि की थी। सुभान के खुलासे के बाद आईबी हाई अलर्ट हो गई है। सुभान ने उन 24 उद्योगपतियों और राजनेताओं के नामों का खुलासा किया है जो लश्कर के निशाने पर हैं। आईबी कुछ और नामों का पता लगाने की कोशिश कर रही है जो लश्कर के निशाने पर हो सकते हैं। अब्दुल कुरैशी की गिरफ्तारी पुलिस के लिए काफी अहम है क्योंकि वह ब्रैन वॉश कर भारत के युवाओं को आतंक की दुनिया में धकेल रहा था। अब्दुल कुरैशी लगातार लश्कर ए तैयबा को लॉजिस्टिक सपोर्ट दे रहा था। अब्दुल कुरैशी मुंबई,दिल्ली और अहमदाबाद में हुए आतंकी हमलों में शामिल था। इन शहरों में हुए बम धमाकों में सैंकड़ों निर्दोष नागरिक मारे गए थे। जो लोग लश्कर के निशाने पर हैं उनके बारे में जानकारी के लिए अब्दुल कुरैशी ने उत्तर प्रदेश में बड़ा नेटवर्क खड़ा कर दिया था।
See More.... Bookmark and Share


Hanumangarh live | Hanumangarh News | Hanumangarh News | Raj News | Hanumangarh Rajasthan | News in Hanumangarh | hanumangarh Town in Hanumangarh | hanumangarh | hanumangarh | hanumangarh | hanumangarh | hanumangarh