अपना जिला

बाल श्रमिक को मुक्त करवाया

हनुमानगढ़। जंक्शन पुलिस ने मंगलवार को एक चाय की दुकान से बाल श्रमिक को मुक्त करवा संबंंधित धाराओं में मामला दर्ज किया है। मिली जानकारी के अनुसार जंक्शन पुलिस ने सूचना के आधार पर परिवहन विभाग के कार्यालय के समीप एक चाय वाले के यहां दबिश दी और वहां काम कर रहे सुरेशिया निवासी बाल श्रमिक अजीत पुत्र इन्द्रदेव को मुक्त करवाया। पुलिस ने चाय वाले पवन पुत्र मोतीलाल के खिलाफ मानव तस्करी विरोधी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है। पुलिस उप निरीक्षक दीपाराम के नेतृत्व में दबिश देने वाले दल में कांस्टेबल ओमप्रकाश, नवीन व संजीव शामिल थे। Date:- (Tue Mar 10, 2015 At 6:37 PM)

देश-प्रदेश

आप: मीटिंग में आने से रोकने पर एडमिरल रामदास नाराज

नई दिल्ली आम आदमी पार्टी (आप) के लोकपाल एडमिरल रामदास को राष्ट्रीय परिषद की मीटिंग में आने से रोकने के फरमान पर रामदास ने सख्त नाराजगी जताते हुए 'आप' के सभी नेताओं और वालंटियर्स के नाम खुली चिट्ठी लिखकर मीटिंग में आने से रोकने पर सवाल खड़े किए हैं। साथ ही उन्होंने यह भी बताया है आखिर क्यों उन्हें मीटिंग में आने से रोका गया। एडमिरल रामदास की यह चिट्ठी 'आप' नेता योगेंद्र यादव की ओर से ट्वीटर के जरिए जारी की गई है। राष्ट्रीय परिषद, राष्ट्रीय कार्यकारिणी, राजनीतिक मामलों की समिति (पीएसी), कार्यकर्ताओं और समर्थकों के नाम लिखी गई चिट्ठी में एडमिरल रामदास ने कहा है कि मीटिंग शुरू होने से कुछ समय पहले ही उन्हें नहीं आने के लिए कहा गया। यह जानकारी उन्हें पार्टी के सचिव पंकज गुप्ता ने एसएमएस के जरिए दी। उन्होंने कहा कि वह विशेष तौर महाराष्ट्र से दिल्ली राष्ट्रीय परिषद की मीटिंग में हिस्सा लेने के लिए आए थे लेकिन एन वक्त पहले मना करने पर बेहद आहत हैं। तीन पेज की चिट्ठी में रामदास ने उन कारणों के बारे में भी बताया है जिनकी वजह से उन्हें मीटिंग में आने से रोका गया। उन्होंने कहा कि पार्टी ने मेरा कार्यकाल पहले ही बढ़ा दिया था। मेरा कहना था कि लोकसभा चुनाव के दौरान उम्मीदवारों के चयन की प्रक्रिया की जांच की जानी चाहिए। ऐसे ही और भी कई सवाल एडमिरल रामदास ने अपनी चिट्ठी के जरिए उठाए हैं। इसके अलावा योगेंद्र यादव ने राष्ट्रीय परिषद की मीटिंग शुरू होने से पहले ट्वीट कर कहा, 'सभी साथियों, समर्थकों और शुभचिंतकों से मेरा अनुरोध: अगर आप पार्टी की आत्मा और एकता को बचाए रखना चाहते हैं तो घर बैठकर प्रार्थना करें। राष्ट्रीय परिषद की बैठक स्थल के बाहर किसी शक्ति परीक्षण या तू-तू, मैं-मैं का हिस्सा न बनें। '

अपना जिला

विकास गोयल जिला संयोजक नियुक्त

हनुमानढ़। इंटरनेशनल वैश्य फैडरेशन के कार्यकारी अध्यक्ष और वैश्य संस्था समन्वय परिषद के चेयरमेन सुरेन्द्र गुप्ता ने वैश्य फैडरेशन की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के मेम्बर विकास गोयल को वैश्य संस्था समन्वय परिषद का हनुमानढ़ जिले का संयोजक नियुक्त किया है। इंटरनेशनल वैश्य फैडरेशन के संस्थापक अध्यक्ष पूर्व सांसद रामदास अग्रवाल ने इस परिषद का गठन वैश्य संस्थाओं को परस्पर जोडऩे और उनमें समन्वय स्थापित करने के लिए किया है। ताकि वैश्य समाज की आवाज बुलंद हो और संस्थाओं द्वारा किए जा रहे कार्यों को प्रचारित,प्रसारित करने के लिए सामूहिक मंच मिल सके। परिषद का उद्देश्य किसी संस्था के काम में हस्तक्षेप नहीं है। सभी संस्थाएं अपना अपना काम करें, लेकिन जब एक होने की जरूरत दिखे तब सब एक साथ नजर आएं । परिषद वैश्य बंधुओं द्वारा संचालित, पोषित क्षेत्रीय, राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कार्यरत संस्थाओं की डायरेक्ट्री भी तैयार करेगी। Date:- (Tue Mar 10, 2015 At 6:20 PM)

अपना जिला

आइजक न्यूटन पुस्तकालय एवं वाचनालय का डॉ रामप्रताप ने किया लोकार्पण

हनुमानगढ़, टाउन स्थित प्रेम नगर में सर आइजक न्यूटन पुस्तकालय एवं वाचनालय का लोकार्पण रविवार को जल संसाधन मंत्री डॉ रामप्रताप ने किया। प्रेम नगर के सामुदायिक भवन में बनाए गए इस पुस्तकालय में सीबीटी, एनबीटी, साहित्य अकादमी, भारतीय ज्ञानपीठ, राजकमल व वाणी प्रकाशन, सस्ता साहित्य मंडल की विशेषकर बच्चों के लिए हिंदी और अंग्रेजी में पुस्तकें मौजूद हैं। साथ ही प्रतियोगिता परिक्षाओं और आईआईटी इत्यादि परीक्षा की तैयारी के लिए पुस्तकें उपलब्ध करवाई गई हैंै। कार्यक्रम में जिला कलक्टर पी.सी.किशन द्वारा जिले के विभिन्न इलाकों में पुस्तकालय खोलने में सराहनीय सहयोग करने पर नगर परिषद आयुक्त श्रवण बिश्नोई को जल संसाधन मंत्री डॉ रामप्रताप ने स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर डॉ रामप्रताप ने आइजक न्यूटन पुस्तकालय की प्रशंसा करने के साथ साथ जिला कलक्टर पीसी किशन द्वारा जिले में विभिन्न पुस्तकालय खोलने के कार्य को मील का पत्थर बताते हुए कहा कि कच्ची बस्तियों में खोले गए ये पुस्तकालय बच्चों के सर्वांगीण विकास का केन्द्र साबित होंगे। गौरतलब है कि जिला कलक्टर पीसी किशन ने जिला मुख्यालय पर ही आइजक न्यूटन समेत 8 पुस्तकालय कच्ची बस्ती इलाकों में खोले हैं। आइजक न्यूटन पुस्तकालय की खास बात ये भी है कि इसमें वैज्ञानिक आइजक न्यूटन की गन मैटल से बनी मूर्ति और 12 अन्य भारतीय और विदेशी वैज्ञानिकों की दीवार पर बनी अति उत्कृष्ट मूर्तियां भी शामिल हैं। जिनमें मैरी क्यूरी, जगदीश चंद्र बसु, राइट बंधु,आर्यभट्ट, गैलीलियो, डॉ हरगोविंद खुराना, आर्कमिडीज, चंद्रशेखर वैकटरमन, आइंस्टीन, मेघनाद शाहा, लुई पाश्चर, चंद्रशेखर सुब्रह्मणम की मूर्तियां शामिल हंै। ये सभी मूर्तियां पल्लू के जवाहर नवोदय विद्यालय के शिक्षक, मूर्तिकार और चित्रकार रामकिशन अडिग के द्वारा बनाई गई हंै। श्री अडिग ने बताया कि उन्हें इस कार्य में छात्र पुनीत और राहुल ने विशेष सहयोग किया। इसके अलावा पुस्तकालय में बैडमिंटन कोर्ट भी बनाया गया है। साथ ही बच्चों के शारीरिक व्यायाम के लिए कई मशीनें में लगाई गई हैं। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि डॉ रामप्रताप के अलावा विशिष्ट अतिथि नगर परिषद के पूर्व सभापति अमर सिंह राठौड़, जिला कलक्टर पीसी किशन, नगर परिषद आयुक्त श्रवण बिश्नोई, केन्द्रीय सहकारी बैंक के प्रबंधक मोहम्मद लतीफ के अलावा बड़ी संख्या में स्थानीय बच्चे और उनके अभिभावक मौजूद थे। कार्यक्रम में मंच संचालन युवा कवि राजू सारसर राज ने किया। Date:- (Mon Feb 9, 2015 At 4:39 PM)

बहुत कुछ

उपप्रधान चुनाव में बीजेपी के 4 कांग्रेस के 2 और 1 निर्दलीय बनी उपप्रधान

हनुमानगढ़। प्रधान के बाद जिले की सात पंचायत समितियों में रविवार को हुए उपप्रधान चुनाव में बीजेपी के चार, कांग्रेस के दो और एक निर्दलीय उपप्रधान बनी। नोहर, भादरा, पीलीबंगा और संगरिया में जहां बीजेपी के उपप्रधान बने। वहीं हनुमानगढ़, टिब्बी में कांग्रेस व रावतसर में निर्दलीय प्रत्याशी उपप्रधान बनने में सफल रही। नोहर में बीजेपी के धर्मवीर बने उपप्रधान नोहर में उपप्रधान बने धर्मवीर को 15 मत मिले वहीं कांग्रेस प्रत्याशी राधेश्याम को 12 वोट मिले. भादरा में बीजेपी की पूजा बनी उपप्रधान भादरा में बीजेपी की पंचायत समिति सदस्य पूजा को उपप्रधान चुनाव में 20 वोट मिले वहीं कांग्रेस के राजेन्द्र को महज 4 मत प्राप्त हुए। पीलीबंगा में बीजेपी के जसविन्द्र सिह बने उपप्रधान बीजेपी के जसविंन्द्र सिंह को 13 और कांग्रेस के जगदीप सिंह को 6 मत मिले संगरिया में बीजेपी की मंजूबाला बनी उपप्रधान बीजेपी की मंजूबाला को 11 और कांग्रेस की मनजीत को 4 वोट मिले हनुमानगढ़ में कांग्रेस के अमर सिंह बने उपप्रधान कांग्रेस के अमर सिंह को 12 और बीजेपी प्रत्याशी मदनलाल को 10 वोट मिले टिब्बी में कांग्रेस के अर्जुनराम बने उपप्रधान कांग्रेस के अर्जुन राम को 9 और बीजेपी प्रत्याशी सरिता को 5 और निर्दलीय प्रत्याशी निर्मला को 3 मत मिले। रावतसर में निर्दलीय सोनादेवी बनी उपप्रधान रावतसर में कांग्रेस और बीेजपी दोनों ही पार्टियों से कोई प्रत्याशी खडा नहीं हुआ। केवल दो निर्दलीय प्रत्याशी ही चुनाव मैदान में थे। निर्दलीय प्रत्याशी सोनादेवी को 11 और दूसरी निर्दलीय प्रत्याशी रोशनी को 4 वोट मिले। Date:- (Mon Feb 9, 2015 At 4:34 PM)

 
INDIA VS UAE

खास खबरें

  •   Bookmark and Share
  •   Bookmark and Share
  •   Bookmark and Share
  •   Bookmark and Share

अपना जिला

बाल श्रमिक को मुक्त करवाया

हनुमानगढ़। जंक्शन पुलिस ने मंगलवार को एक चाय की दुकान से बाल श्रमिक को मुक्त करवा संबंंधित धाराओं में मामला दर्ज किया है। मिली जानकारी के अनुसार जंक्शन पुलिस ने सूचना के आधार पर परिवहन विभाग के कार्यालय के समीप एक चाय वाले के यहां दबिश दी और वहां काम कर रहे सुरेशिया निवासी बाल श्रमिक अजीत पुत्र इन्द्रदेव को मुक्त करवाया। पुलिस ने चाय वाले पवन पुत्र मोतीलाल के खिलाफ मानव तस्करी विरोधी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है। पुलिस उप निरीक्षक दीपाराम के नेतृत्व में दबिश देने वाले दल में कांस्टेबल ओमप्रकाश, नवीन व संजीव शामिल थे। Date:- (Tue Mar 10, 2015 At 6:37 PM)
See More.... Bookmark and Share

Hot News

 

बहुत कुछ

सभी विकल्प खुले, निष्कासन के खिलाफ अदालत जा सकते हैं आप पार्टी के बागी

नई दिल्ली : आप की राष्ट्रीय परिषद की बैठक को असंवैधानिक और अवैध करार देते हुए असंतुष्ट नेता योगेन्द्र यादव और प्रशांत भूषण ने शनिवार को राष्ट्रीय कार्यकारणी से अपने निष्कासन के खिलाफ कानून का रास्ता अपनाने की संभावना से इंकार नहीं किया। केजरीवाल पर तानाशाही प्रवृति और निर्ममता से असंतोष की आवाज दबाने के लिए निशाना साधते हुए प्रशांत भूषण ने बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा कि फैसले को चुनौती देने के लिए सभी विकल्प खुले हैं। उन्होंने कहा, ‘यह सही है कि हम अदालत, चुनाव आयोग जा जा सकते हैं या राष्ट्रीय परिषद की दूसरी बैठक बुला सकते हैं। सभी विकल्प खुले हैं।’ बैठक के अंदर का ब्यौरा देते हए दोनों नेताओं ने केजरीवाल पर सुनियोजित तरीके से असंतुष्ट नेताओं के खिलाफ राष्ट्रीय परिषद के सदस्यों को उकसाने का आरोप लगाया जिसमें कुछ सदस्यों के साथ धक्कामुक्की की गई। इन्होंने आरोप लगाया कि केजरीवाल ने अपने भाषण के दौरान यह धमकी दी कि अगर हमें राष्ट्रीय कार्यकारणी से नहीं हटाया गया तब वह इस्तीफा दे देंगे। योगेन्द्र ने कहा, ‘केजरीवाल ने करीब एक घंटे तक नाटकीय अंदाज में भाषण दिया और यह हमारे खिलाफ आरोपों से भरा हुआ था। उन्होंने धमकी दी कि अगर हमें नहीं हटाया जाता है तब वह इस्तीफा दे देंगे। उन्होंने शांति भूषण का नाम लिये बिना उनपर पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने का आरोप लगाया। इसके बाद विधायक कपिल मिश्रा सहित 10 लोग खड़े हुए और हमें गद्दार कहते हुए नारेबाजी शुरू कर दी।’ उन्होंने कहा कि भाषण समाप्त करने के तुरंत बाद पार्टी के संयोजक दिल्ली के परिवहन मंत्री गोपाल राय को बैठक का अध्यक्ष बनाने तथा आधिकारिक कार्यो का हवाला देते हुए वहां से चले गए। इसके कुछ ही सेकेंड बाद दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने निष्कासित करने का प्रस्ताव पेश किया। योगेन्द्र ने कहा, ‘सिसोदिया ने कहा कि 167 सदस्यों ने प्रस्ताव रखा है और किसी का अनुमोदन लिये बिना मतदान शुरू हो गया। हमने राय से चर्चा शुरू करने और गुप्त मतदान की व्यवस्था करने को कहा, लेकिन उन्होंने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी।’ उन्होंने कहा कि यह एक पार्टी की विडंबना है कि जिसका जन्म जन लोकपाल पर हुआ, वहां आंतरिक लोकपाल एल रामदास को बैठक में संषर्घ की स्थिति की संभावना का हवाला देते हए आने की अनुमति नहीं दी गई। वहीं प्रशांत भूषण ने बैठक के दौरान उपद्रव की निंदा करते हुए कहा कि उन्हें पिछने तीन दिन की गतिविधियों से इसके सुनियोजित होने का अंदेशा था। प्रशांत भूषण ने कहा, ‘प्रत्येक विधायक को 50 लोग लाने को कहा गया था। वे उपद्रव में लगे हुए थे और जिन लोगों ने रोकने का प्रयास किया, उन्हें धक्का देकर बाहर कर दिया गया। क्या यह वही पार्टी है जिसके लिए हमने खून और पसीना बहाया था। यह पार्टी के लिए काफी गंभीर समय है।’ वहीं, योगेन्द्र ने केजरीवाल खेमे के उन दावों पर चुटकी ली कि राष्ट्रीय परिषद में प्रस्ताव के खिलाफ केवल आठ लोगों ने ही मतदान किया। योगेन्द्र और भूषण ने कहा कि वे यह भी कह सकते हैं कि ‘माइनस आठ’ थे। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय परिषद में मतदान करने और मतदान नहीं करने वाले सदस्यों की पहचान नहीं थी। यह पूरी तरह से पहले लिखी पटकथा के अनुरूप थी। अगर हम उनके दावों को भी मान ले तब क्या यह तथ्य नहीं है कि वे प्रस्ताव पेश करने के लिए केवल 167 हस्ताक्षर जुटा सके। योगेन्द्र ने कहा कि अगर आपको इतना भरोसा था तब आपने गुप्त मतदान क्यों नहीं होने दिया ? आपने पार्टी के लोकपाल को कार्यवाही से अलग क्यों रखा ? इस तरह से अपमानित होने के बाद नयी पार्टी गठित करने की संभावना को खारिज किये बिना उन्होंने कहा कि वह पार्टी की बैठक में कार्यकर्ताओं के साथ बैठेंगे। 3/28/2015 7:24:45 AM
See More.... Bookmark and Share


देश-प्रदेश

आप: मीटिंग में आने से रोकने पर एडमिरल रामदास नाराज

नई दिल्ली आम आदमी पार्टी (आप) के लोकपाल एडमिरल रामदास को राष्ट्रीय परिषद की मीटिंग में आने से रोकने के फरमान पर रामदास ने सख्त नाराजगी जताते हुए 'आप' के सभी नेताओं और वालंटियर्स के नाम खुली चिट्ठी लिखकर मीटिंग में आने से रोकने पर सवाल खड़े किए हैं। साथ ही उन्होंने यह भी बताया है आखिर क्यों उन्हें मीटिंग में आने से रोका गया। एडमिरल रामदास की यह चिट्ठी 'आप' नेता योगेंद्र यादव की ओर से ट्वीटर के जरिए जारी की गई है। राष्ट्रीय परिषद, राष्ट्रीय कार्यकारिणी, राजनीतिक मामलों की समिति (पीएसी), कार्यकर्ताओं और समर्थकों के नाम लिखी गई चिट्ठी में एडमिरल रामदास ने कहा है कि मीटिंग शुरू होने से कुछ समय पहले ही उन्हें नहीं आने के लिए कहा गया। यह जानकारी उन्हें पार्टी के सचिव पंकज गुप्ता ने एसएमएस के जरिए दी। उन्होंने कहा कि वह विशेष तौर महाराष्ट्र से दिल्ली राष्ट्रीय परिषद की मीटिंग में हिस्सा लेने के लिए आए थे लेकिन एन वक्त पहले मना करने पर बेहद आहत हैं। तीन पेज की चिट्ठी में रामदास ने उन कारणों के बारे में भी बताया है जिनकी वजह से उन्हें मीटिंग में आने से रोका गया। उन्होंने कहा कि पार्टी ने मेरा कार्यकाल पहले ही बढ़ा दिया था। मेरा कहना था कि लोकसभा चुनाव के दौरान उम्मीदवारों के चयन की प्रक्रिया की जांच की जानी चाहिए। ऐसे ही और भी कई सवाल एडमिरल रामदास ने अपनी चिट्ठी के जरिए उठाए हैं। इसके अलावा योगेंद्र यादव ने राष्ट्रीय परिषद की मीटिंग शुरू होने से पहले ट्वीट कर कहा, 'सभी साथियों, समर्थकों और शुभचिंतकों से मेरा अनुरोध: अगर आप पार्टी की आत्मा और एकता को बचाए रखना चाहते हैं तो घर बैठकर प्रार्थना करें। राष्ट्रीय परिषद की बैठक स्थल के बाहर किसी शक्ति परीक्षण या तू-तू, मैं-मैं का हिस्सा न बनें। '
See More.... Bookmark and Share


खबरें और भी

गांव/कस्बों की खबरें

डायरेक्टरी

फ्यूचर प्लस

 

लो आ गई पानी से चलने वाली बाइक, देती है 250 का माइलेज

 
नई दिल्ली। अब आने वाले समय हो सकता है आप पानी से चलने वाली बाइक की सवारी कर रहे हों, क्योंकि अब ऎसी बाइक बनाई जा चुकी है। इतना ही नहीं बल्कि यह बाइक पेट्रोल से चलने वाली बाइक्स को भी माइलेज के मामले में मात करती है। यह बाइक एक लीटर पानी में 250 किलोमीटर चलती है। पानी से चलने के कारण इस बाइक में किसी दुर्घटना का भी कोई खतरा नहीं। इसमें एक और खास बात ये है कि इस बाइक को बनाने में महज 1900 रूपए का खर्चा आया है। पानी से चलने वाली इस बाइक को दसवीं के छात्र नित्याशीष भंडारी ने बनाया है तथा इसे 42वें स्टेट लेवल साइंस मैथमेटिक्स एंड इंवायरमेंट एग्जीबिशन-2015 में प्रदर्शनी के लिए रखा गया है। भंडारी ने पेट्रोल बाइक में बदलाव कर उसे पानी से चलने वाली बना दिया। उन्होंने इस बाइक को पानी चलाने के लिए ऑक्सी हाइड्रोजन सेल की तीन प्लेट्स 3/6 इंजन में फिट करवाई जो पानी को ऑक्सी हाइड्रोजन गैस में बदल देती हैं। हालांकि इस बाइक को एकबार स्टार्ट करने के लिए पेट्रोल की जरूरत होती है इसके बाद यह तुरंत गैस पकड़ लेती है। इसके बाद इंजन में जितनी गैस जनरेट होती है उतनी ही खर्च होती रहती है। नित्याशीष के मुताबिक इस किट को कार में भी लगाया जा सकता है जिससे छोटी कारें बहुत ही आसानी से चल सकती है। इस किट की एक और खास बात ये है इसमें इस्तेमाल करने के लिए पाने पानी की जरूरत नहीं बल्कि समुद्री जल या डिजिटल वॉटर भी इस्तेमाल किया जा सकता है। यह समुद्र के एक लीटर पानी से 250 किलोमीटर चलती है।
Bookmark and Share

job/exam/result

Hanumangarh live | Hanumangarh News | Hanumangarh News | Raj News | Hanumangarh Rajasthan | News in Hanumangarh | hanumangarh Town in Hanumangarh | hanumangarh | hanumangarh | hanumangarh | hanumangarh | hanumangarh